बाल-मंदिर परिवार

हमारे सम्मान्य समर्थक

गुरुवार, 19 अप्रैल 2012

बाल कविता: पुलू-लुलू_डा. मुनि लाल उपाध्याय 'सरस'


बाल कविता : डा. मुनि लाल उपाध्याय 'सरस' 
छोटा मुन्ना
 पुलू-लुलू.
मत  कर मत कर
 छुलू-लुलू.
मम्मी ने  क्या
 पीट दिया है ?
मत कर आंसू 
ढुलू-ढुलू.
छोटा मुन्ना
 पुलू-लुलू.
मत  कर मत कर
 छुलू-लुलू.

डा. मुनि लाल उपाध्याय 'सरस' 
जन्म : 10अप्रैल,1942, बस्ती  

लगभग 4 दर्जन पुस्तकें प्रकाशित. 'बाल त्रिशूल' विधा का प्रवर्तन किया. बाल पत्रिका 'बालसेतु' का संपादन-प्रकाशन किया   
 

वे बाल साहित्यकारों के लिए भी एक सेतु जैसे थे . अपने खर्चे पर बस्ती में बाल साहित्यकार सम्मलेन किया करते थे. बहुत मिलनसार और सह्रदय इंसान थे.
1 अप्रैल,2012 को उनका देहांत हो गया. 
 

3 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत प्यारी बाल-कविता!...डा. मुनि लाल उपाध्याय 'सरस' जी को मेरी विनम्र श्रद्धांजलि !!!

    उत्तर देंहटाएं

टिप्पणी के लिए अग्रिम आभार . बाल-मंदिर के लिए आपके सुझावों/ मार्गदर्शन का भी सादर स्वागत है .